celebrity

आग से खेलने वाली भारत की पहली महिला!

कहते हैं कि आग से खेलना कोई बच्चों का काम थोड़े ही है. अच्छे-अच्छे लोग आग से डरकर कोसों दूर भाग जाते हैं. लेकिन इसी आग से लोगों को हर्षिनी…

Read More

इंजिनियरिंग करके बने प्लास्टिक बाबा, कर रहे हैं लोगों को जागरूक

इंजिनियरिंग करने बाद सभी को एक अच्छी नौकरी की तलाश होती है. सोचिये नौकरी मिल रही हो, लेकिन उसे छोड़कर कोई लीक से हटकर एक नेक काम करने की सोचे….

Read More

कॉल सेंटर से लेकर गैंग ऑफ वासेपुर का ‘डेफिनेट’ बनने का सफ़र!

आप सभी ने गैंग ऑफ वासेपुर देखी होगी. जिसमें डेफिनेट का किरदार निभाया था जीशान कादरी ने. जो खुद धनबाद के ही रहने वाले थे. इन्होनें अपनी शुरूआती पढाई झारखंड…

Read More

एक गरीब चाय वाले के फैन हैं महिंद्रा कंपनी के मालिक!

कहा जाता है कि मंजिल उन्ही को मिलती है, जिनके सपनों में जान होती है. पंख से कुछ नहीं होता, हौसलों से उड़ान होती है. महाराष्ट्र के रहने वाले एक…

Read More

उम्र केवल 15 साल, लेकिन निकली है साइकिल से भारत भ्रमण पर

दो साल पहले अपने माता-पिता से झगड़ा करके निकली 15 साल की हर्षा मिश्रा पटना से दिल्ली पहुंच गई थीं. वो आनंद विहार स्टेशन पर ही दो-तीन घंटे रुकीं. जहां…

Read More

एक महिला जिसने हाथ से नहीं, पैरों से अपनी किस्मत लिखी है!

ऋषिकेश में एक गांव है- गौहरीमाफी. इस गांव में असल में नारी सशक्तीकरण की मिसाल देखने को मिल जाएगी. इस गांव में की एक महिला का नाम है पुष्पा रावत….

Read More

मिर्जापुर के गोपाल, जिनके गुड्डू-बबलू पूरा कर रहे हैं उनका सपना!

उत्तर प्रदेश के मिर्ज़ापुर के एक गांव में गोपाल खंडेलवाल नामक व्यक्ति रहते हैं. दिव्यांग हैं, व्हीलचेयर ही उनका सहारा है. लेकिन उनका हौसला बड़े-बड़े दिग्गजों को पस्त कर देगा….

Read More

एक रुपए के लिए सचिन को आउट करना जरुरी होता था!

यह किस्सा उस वक़्त का है, जब सचिन तेंदुलकर अपने कोच रमाकांत आचरेकर के यहाँ ट्रेनिंग के लिए जाते थे . वो अपने कोच के फेवरेट खिलाडियों में से एक…

Read More

दाँव-पेंचों के गुरु – सतपाल पहलवान

ओलंपिक मेडलिस्ट सुशील कुमार और पहलवान योगेश्वर दत्त सहित कई पहलवानों को अखाड़े तक पहुँचाने का श्रेय अगर किसी को मिलता है तो वह हैं पद्मश्री पहलवान सतपाल. उनके सुशील…

Read More

सादगी की मिसाल थे महान वैज्ञानिक माइकल फैराडे

एक बार जाने-माने वैज्ञानिक माइकल फैराडे से मिलने एक सरकारी अधिकारी मिलने आया. वो उस वक़्त रॉयल सोसायटी में काम करते थे. अधिकारी ने गेट पर बैठे चौकीदार से उनके…

Read More

Page 1 of 2

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password